चीन में मुस्लिमों को नीचा दिखाने के लिए मस्जिद तोड़कर बना दिया सार्वजनिक शौचालय

1 min read

News

चीन में मुस्लिमों को नीचा दिखाने के लिए मस्जिद तोड़कर बना दिया सार्वजनिक शौचालय

नोट : हम हमेशा यह कहते आये है की भारतने मुस्लिम भाईयोंको हमेशा बहुत सुरक्षितता और सम्मान दिया है और वह उनके आतंकी संघटनोंके दुष्प्रचार को स्वीकार कर खुदको असुरक्षित महसूस ना करे. यह खबर दुनियाके अन्य देशोमे मुस्लिमोके साथ कैसा व्यवहार होता है उसका एक मसला है. क्या भारतके मुस्लिम भाई यह बात मानेंगे?

दी. १८ अगस्त २०२०

चीन के शिनजियांग प्रांत में मुस्लिमों का उत्पीड़न जारी है। ताजा घटनाक्रम में एक मस्जिद को गिराकर उसकी जगह पर सार्वजनिक शौचालय बनाने का मामला सामने आया है। ऐसा इलाके के उईगर मुस्लिमों को नीचा दिखाने के उद्देश्य से किया गया।

तोकुल मस्जिद को ध्वस्त कर शौचालय और रेस्ट रूम बनवा दिया

रेडियो फ्री एशिया के अनुसार आतुश जिले के सुंताघ गांव में बनी तोकुल मस्जिद को सरकारी महकमे ने ध्वस्त करा दिया। इसके बाद वहां पर शौचालय और रेस्ट रूम बनवा दिए। बताया गया है कि 2016 से जारी अभियान में इलाके की तीन मस्जिदों को ध्वस्त कराया जा चुका है।

18 लाख उईगर मुस्लिम शिविरों में नजरबंद

राष्ट्रपति शी चिनफिंग की कट्टरवाद को खत्म करने की नीति के चलते चीन में अप्रैल 2017 से करीब 18 लाख उईगर मुस्लिमों और अन्य मुस्लिमों को शिविरों में नजरबंद करके रखा गया है। वहां उन्हें वामपंथी व्यवस्था का सम्मान करने की शिक्षा दी जाती है। दुनिया भर में इन शिविरों के खिलाफ आवाज उठी है, लेकिन चीन के कान में जूं नहीं रेंगी।

राष्ट्रपति शी चिनफिंग की कट्टरवाद को खत्म करने की नीति के चलते चीन में अप्रैल 2017 से करीब 18 लाख उईगर मुस्लिमों को शिविरों में नजरबंद करके रखा गया है।

शिनजियांग, एएनआइ। चीन के शिनजियांग प्रांत में मुस्लिमों का उत्पीड़न जारी है। ताजा घटनाक्रम में एक मस्जिद को गिराकर उसकी जगह पर सार्वजनिक शौचालय बनाने का मामला सामने आया है। ऐसा इलाके के उईगर मुस्लिमों को नीचा दिखाने के उद्देश्य से किया गया।

तोकुल मस्जिद को ध्वस्त कर शौचालय और रेस्ट रूम बनवा दिया

रेडियो फ्री एशिया के अनुसार आतुश जिले के सुंताघ गांव में बनी तोकुल मस्जिद को सरकारी महकमे ने ध्वस्त करा दिया। इसके बाद वहां पर शौचालय और रेस्ट रूम बनवा दिए। बताया गया है कि 2016 से जारी अभियान में इलाके की तीन मस्जिदों को ध्वस्त कराया जा चुका है।

18 लाख उईगर मुस्लिम शिविरों में नजरबंद

राष्ट्रपति शी चिनफिंग की कट्टरवाद को खत्म करने की नीति के चलते चीन में अप्रैल 2017 से करीब 18 लाख उईगर मुस्लिमों और अन्य मुस्लिमों को शिविरों में नजरबंद करके रखा गया है। वहां उन्हें वामपंथी व्यवस्था का सम्मान करने की शिक्षा दी जाती है। दुनिया भर में इन शिविरों के खिलाफ आवाज उठी है, लेकिन चीन के कान में जूं नहीं रेंगी।

 

शौचालय निर्माण कार्य सरकारी महकमे और हान जाति के लोगों ने किया

रेडियो को टेलीफोन पर दिए इंटरव्यू में सुंताघ गांव की उईगर भाईचारा कमेटी के प्रमुख ने बताया कि मस्जिद 2018 में गिराई गई थी। खाली जगह पर शौचालय इसी साल बनाया गया है, लेकिन इसे इस्तेमाल के लिए अभी खोला नहीं गया है। जहां पर यह निर्माण किया गया है, वहां पर शौचालय की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि वहां के लगभग सभी घरों में शौचालय हैं। यह निर्माण कार्य सरकारी महकमे और हान जाति के लोगों ने किया है।

चीन में हान बहुसंख्यक हैं और सत्ता पर उनका ही कब्जा है

चीन में हान बहुसंख्यक हैं और सत्ता पर भी उनका ही कब्जा है। प्रमुख ने यह जानकारी डरते हुए दी। उसे डर था कि मीडिया से बात करने पर उसके खिलाफ कार्रवाई हो सकती है।

सौजन्य- दैनिक जागरण

====  +  ====

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *